हनुमान मंदिर की बाउंड्री टूटी, ट्रस्ट व हिन्दू महासभा ने दिया धरना

हनुमान मंदिर की बाउंड्री टूटी, ट्रस्ट व हिन्दू महासभा ने दिया धरना

। मंगलवार की सुबह शहर के पटेल नगर स्थित हनुमान मंदिर की पश्चिमी बाउंड्री तोडे जाने पर मंदिर के ट्रस्ट व अखिल भारत हिन्द महासभा ने नाराजगी का इजहार किया। पदाधिकारियो ने सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगात हुए मंदिर मे अनिश्चित कालीन धरना शरू कर दिया। भाजपा के जिलाध्यक्ष के आश्वासन पर पदाधिकारियो ने धरना समाप्त कर दिया। बता दे शहर के पटेल नगर स्थित हनुमान मंदिर की बाउंड्री तोडे जाने की जानकारी मिलने पर मंदिर के मुख्य ट्रस्टी व अखिल भारत हिन्द महासभा के प्रदेश महामंत्री मनोज त्रिवेदी के नेतत्व मे पदाधिकारी मंदिर पहंचे। जहां बाउऊंडी के क्षतिग्रस्त होने पर नाराजगी का इजहार कर अनिश्चित कालीन धरना शुरू कर दिया। अनिश्चित कालीन धरने को लेकर शाम करीब चार बजे भाजपा के जिलाध्यक्ष आशीष मिश्र व पंकज त्रिपाठी मंदिर पहुंचे। जहां भाजपा अध्यक्ष ने पदाधिकारियो को आश्वासन दिया। जिस पर पदाधिकारियो ने धरना समाप्त कर दिया। मंदिर के मुख्य ट्रस्टी व महसभा के प्रदेश महामंत्री मनोज त्रिवेदी ने बताया कि शहर के पटेल नगर स्थित हनुमान मंदिर प्राचीन मंदिर है। जिससे बड़ी संख्या मे लोगो की आस्था जुड़ी है। मंदिर मे भण्डारे का आयोजन होता है। मंदिर का पश्चिमी द्वार भी खुलता है। जमीन अभिलेखो मे नगर पालिका के अन्तर्गत दर्ज है। जिसकी खाता संख्या 169 है। जमीन पर सत्ताधारी भाजपा द्वारा कार्यालय का निर्माण कराया जा रहा है। जमीन पर सत्ताधारी पार्टी अपना पट्टा होने की पर सत्ताधारी पार्टी अपना पट्टा होने की बात कह रही है। जबकि उच्च न्यायालय द्वारा पूर्व में किए गए सभी पटटे निरस्त कर दिए गए है। मंगलवार को सुबह सत्ताधारी पार्टी द्वारा मंदिर की पश्चिमी बाउंड्री तोड़कर क्षतिग्रस्त कर दी गई। जिस पर अनिश्चित कालीन धरना शुरू कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि भाजपा अध्यक्ष ने मामले में प्रदेश अध्यक्ष से वार्ता कर समस्या के निस्तारण का आश्वासन दिया है। जिस पर धरना समाप्त कर दिया गया है। उन्होने कहा कि मंदिर की जमीन पर कब्जा नहीं होने दिया जाएगा। जरूरत पड़ने पर आंदोलन किया जाएगाइस मौके पर स्वामी राम आसरे आर्य, श्रवण कुमार श्रीवास्तव, प्रमोद कमार पाण्डेय, शशिकान्त मिश्र, शिवाकान्त तिवारी, सतोष, राजेन्द्र कुमार, प्रदीप तिवारी, शंकर लाल, नरेन्द्र सिंह, गोरेलाल मौजूद रहे।