लोहार मामले मे जल्द मोदी सरकार अपना मंतब्य स्पष्ट करे - राजकिशोर शर्मा

लोहार मामले मे जल्द मोदी सरकार अपना मंतब्य स्पष्ट करे - राजकिशोर शर्मा

आरा(बिहार, ब्यूरो) - आदिवासी अधिकार मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकिशोर शर्मा ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि केंद्र सरकार लोहार मामले में अपना मंतब्य  स्पष्ट करें। शर्मा ने कहा कि कई मोर्चे पर मोदीजी की सरकार ने देश में अच्छा काम किया है जिसमें कांग्रेस द्वारा दी गई कई विवादित मुद्दों में 370 तीन तलाक जीएसटी नोटबंदी राम मंदिर जैसे मुद्दे को हल करने का काम किया है। लोहार को लोहारा हिंदी में लिखना यह कांग्रेस सरकार की गलती है ओर दी गयी विवाद हैं। इसलिए इस गलती को सुधारने के लिए नरेंद्र मोदी की सरकार ने 2016 में लोहारा को निरशन और संशोधन कर दिया यानी लोहारा मृतप्राय हो गया। इसके बाद राष्ट्रपति का गजट भी जारी हो चुका है जो पूर्ण रूप से एक्ट23 /2016 को कानूनी मान्यता प्राप्त है इसे कोई भी अधिकारी अपने पत्र से चुनौती नहीं दे सकता है। विधि अनुसार नोटिफिकेशन 3 दिनों के अंदर हो जाना चाहिए जो आज 4 साल हो गए। जबकि बिहार में बीजेपी और नीतीश कुमार की सरकार है जो लोहारों के अनुसूचित जन जाती की लाभ दे रही है। लेकिन विभाग अधिसूचना के कारण केंद्रीय कार्यालय के विभागों में छात्र-छात्राओं को काफी परेशानी उठाना पड़ रहा है। लोकसभा में कई बार यह मामला उठा रोड पर आंदोलन भी किए गए लेकिन केंद्र का कोई भी पदाधिकारी इस मुद्दे पर अपनी स्पष्ट राय नहीं दे रहा है कि वह लोहारा लोहारा के बारे में जानते हैं या नहीं। लोहार कृषि और सुरक्षा का मुख्य केंद्र बिंदु है इसके हथियारों से ही इस देश को कृषि और सुरक्षा प्राप्त हुई है तथा भोजन और कामगारों को काम जुटाने में लोहार के हथियारों का बहुत बड़ा महत्व है। शर्मा ने कहा कि लोहारा  लिखकर देश और जनता को गुमराह करना तथा एक नई काल्पनिक जाति बनाना न्याय संगत नहीं है। अगर केंद्र सरकार संविधान और आरक्षण के सपोर्टर है तो अविलंब अपना मंतव्य लोहार मामले पर क्लियर करें। अपने ही बनाए गए कानून को लागू करेगी या नहीं शर्मा ने कहा कि हम किसी के अधिकार नहीं मार रहे हैं बल्कि हम 1950 इस टीम में शामिल हैं जो तत्कालीन 1976 अधिनियम के लोग मेे एक्ट 23/2016 मे लोहार लिखा अधिसूचना चाहिए  बर्ना बिहार विधानसभा चुनाव मे चुप नही बैठेंगे और नही सुने तो बीजेपी के विरोधी को वोट दिया जायेगा।