मुशलाधार बारिश ने बच्ची समेत तीन की ली जान

मुशलाधार बारिश ने बच्ची समेत तीन की ली जान
सुल्तानपुर (यूडीएन 24) ।जिले में बीती सोमवार की रात भारी वर्षा व तेज हवा के चलते रिहायशी छप्पर में सो रहे दम्पति के ऊपर आम का पेड़ गिरने से दबकर दर्दनाक मौत हो गई। वही कूरेभार थाना क्षेत्र के बरौला के महुली गांव में मकान की दिवार गिरने से लगभग 08 वर्षीय बच्ची की मौत हो गई हैं।
                      घटना चांदा थाना क्षेत्र के रामपुर गांव के दलित बस्ती की है। बीती सोमवार की रात चांदा थाना क्षेत्र के रामपुर गांव में एक दलित परिवार जो रिहायशी छप्पर में रहकर अपना गुजर बसर करते थे। उस परिवार पर बीती रात दुखों का पहाड़ टूट पड़ा रामचरन गौतम (45) वर्ष तथा पत्नी राधा (42) वर्ष के साथ रात्रि में छप्पर में सो रहे थे। आधी रात बाद हवा के साथ तेज बारिश के चलते छप्पर के बगल स्थित आम का विशाल काय पेड़ भर-भरा कर छप्पर पर गिर पड़ा। 
 
 
  • लगातार बरसात से चांदा में कच्चे मकान पर आम का पेड़ और कूरेभार में मकान की दिवार गिरने से दम्पति समेत एक बच्ची की हुई दर्दनाक मौत।
 
 जिस छप्पर पर पेड़ गिरा उसी के नीचे रामचरन व राधा सो रहे थे। जिसके कारण पति व पत्नी छप्पर के मलबे के नीचे दब गए। वही बगल में स्थित दूसरे छप्पर में सो रहे बच्चों की नींद तेज आवाज सुनकर खुल गई। बच्चों ने देखा कि जिस छप्पर में अम्मा-बाबू सो रहे है। उस पर विशालकाय आम वृक्ष गिरा हुआ है। बच्चे बदहवास होकर चिल्लाते हुए गुहार बच्चों की जिसपर तमाम ग्रामीणों ने पहुँचकर  पेड़ की डालो को काटकर छप्पर का मलवा हटाकर दोनो लोगो को बचाने का प्रयास किए लेकिन तब तक दोनों दंपतियों की सांसे-धम चुकी थी। जिसके बाद परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पर रात्रि में ही चांदा कोतवाल चंद्रभान यादव घटनास्थल पर पहुंचकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही लंभुआ उपजिलाधिकारी विधेश ने सुबह गाँव पहुँच कर मृतक के परिजनों को आश्वासन दिया कि प्राथमिकता के आधार पर के प्रधानमंत्री आवास दिलवाया जायेगा। साथ ही जो भी सरकारी सहायता होगी उसे शीघ्र उप्लब्ध कराया जायेगा। ग्राम सभा के कोटेदार व प्रधान को निर्देशित किया कि बच्चों के खाने-पीने व रहने की व्यवस्था करे।