बहन के यहाँ से लौट रहे डाक्टर को ट्रक ने कुचला मौके पर मौत

बहन के यहाँ से लौट रहे डाक्टर को ट्रक ने कुचला मौके पर मौत

फतेहपुर। लौट रहे बाइक सवार डॉक्टर को डीसीएम ने कुचल दिया। डॉक्टर की मौके पर मौत।। हादसा  नउवाबाग में रविवार की रात हुआ।

बांदा जिले के जसपुरा थाना क्षेत्र के रामपुर गांव निवासी गयादीन मिश्रा के बेटे पियूष मिश्रा (30) प्राइवेट प्रैक्टिस करते थे।

उन्होंने हुसैनगंज कस्बे में क्लीनिक खोला हुआ है। वह शहर के रामगंज पक्का तालाब में किराये पर कमरा लिए थे। फसल के समय गांव जाकर खेती किसानी में परिजनों का सहयोग करते थे

।रविवार सुबह पियूष शहर के अयोध्या कुटी में रहने वाले अपने दोस्त विजय के साथ बहन रजनी के यहां बाइक से कानपुर गए थे।

शाम को लौटते समय रात करीब नौ बजे नउवाबाग में ग्रीन हवेली के सामने पीछे से आ रही डीसीएम ने टक्कर मार दी।


मोर्चरी में पियूष के चाचा शशिकांत ने बताया कि भतीजा प्राइवेट प्रैक्टिस के साथ खेती किसानी में भी हाथ बंटाता था। उसकी मौत से मां को गहरा सदमा पहुंचा है।

उन्हें अभी तक होश नहीं आया है। कोतवाल रवींद्र श्रीवास्तव ने बताया कि युवक के चाचा की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात डीसीएम चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम कराया है।

टक्कर लगने से पियूष सड़क पर गिर गए। वह डीसीएम के पहिये से कुचल गए। विजय उछलकर दूर गिरा।

दुर्घटना होते ही आसपास मौजूद लोग दौड़कर मौके पर पहुंचे।

पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने विजय को अस्पताल पहुंचाया। पियूष का शव जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाकर परिजनों को सूचना दी गई।

बेटे की मौत की खबर पर मां सुधा और छोटे भाई अखिलेश को रो-रोकर हाल बेहाल था