जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित हुई पोषण समिति की बैठक

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित हुई पोषण समिति की बैठक
जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित हुई पोषण समिति की बैठक

अमेठी (उत्कर्ष धारा24)। जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में  कैंप कार्यालय में  जिला पोषण समिति की बैठक आयोजित हुई। जिलाधिकारी द्वारा  सभी कन्वर्जेन्स विभागों द्वारा किये गए कार्यो की समीक्षा की गई। जनपद स्तरीय अधिकारियो द्वारा कुपोषण मुक्त बनाये जाने के उद्देश्य से कुपोषित ग्राम पंचायतों को सुपोषित बनाने के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा सभी जनपद स्तरीय अधिकारियो को निर्देश दिये गये कि  कुपोषित बच्चो को पुष्टाहार देकर कुपोषण मुक्त बनाये तथा गर्भवती महिलाओ के खान-पान पर विशेष ध्यान देने तथा बच्चा पैदा होने पर उसका वजन कराकर देखा जाये कि बच्चा स्वस्थ्य है कि नही, यदि बच्चा स्वस्थ्य नही है तो बच्चे की माॅ को आयरन की गोली के साथ विटामिन्स भी दिये जाये और उससे जूडे सभी खान-पान व टीकाकरण का विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश दिये गये।

  • गर्भवती महिलाओं व कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों को आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करायेंं -जिलाधिकारी

जिलाधिकारी द्वारा सभी अधिकारियो को निर्देशित किया गया कि गर्भवती महिलाओ को हरी साग सब्जिया अधिक मात्रा में खाने के लिए आगनवाड़ी एवं आशा कार्यकत्रियो के माध्यम से प्रेरित करे, जिससे कि गर्भवती महिला एक स्वस्थ्य बच्चे को जन्म दे सके। जिलाधिकारी ने सभी सीडीपीओ को निर्देश दिया कि  जो बच्चे रेड श्रेणी में है उनकी  नियमित जानकारी रखें साजथ ही उन्हें समुचित मात्रा में पोषाहार  उपलब्ध कराकर हरी श्रेणी में लाने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि आयरन एवं कैल्शियम की गोलियों की उपलब्धता पर ध्यान दिया जाए, समस्त बाल विकास परियोजना अधिकारी को यह निर्देश दिए जाय कि कुपोषित एवं अतिकुपोषित बच्चे जिनके परिवारों को शौचालय एवं राशन कार्ड की सुविधाएं अभी उपलब्ध नही कराई गई है उनकी सूची संबंधित विभाग को प्रेषित करें। सभी बाल विकास परियोजना अधिकारी को यह निर्देश दिए गए कि प्रत्येक आंगनवाड़ी केंद्र पर समुदाय आधारित गतिविधियों का आयोजन हो और उनके अभिलेख पूर्ण हो। इसके साथ साथ सभी गाँव गोद लिए गए अधिकारी को निर्देश दिए गए कि निरन्तर अपने गोद लिए गॉव का निरीक्षण करें और उसकी रिपोर्ट उपलब्ध कराए। जिला कार्यक्रमज अधिकारी ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि प्रत्येक माह में बचपन दिवस, सुपोषण स्वास्थ्य मेला, किशोरी दिवस, तथा लाडली दिवस का आयोजन आंगनबाड़ी केंद्र, ए एन एम उपकेंद्र पर आयोजित किया जाता है जिसमें टीकाकरण, पूर्ण एएनसी जांच, अतिकुपोषित बच्चों का चिन्हाकन, वजन, खान-पान संबंधी जानकारी महिलाओं को दिया जाता है तथा आवश्यक सहायता प्रदान की जाती है। बैठक के दौरान  मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आर.एम. श्रीवास्तव, जिला कार्यक्रम अधिकारी सरोजनी देवी, बेसिक शिक्षा अधिकारी विनोद मिश्रा उपस्थित रहे।