गुमशुदा बालक को पुलिस ने अविलंब किया बरामद- उत्कर्ष धारा 24 न्यूज़

संवाददाता राम शंकर जायसवाल की रिपोर्ट

गुमशुदा बालक को पुलिस ने अविलंब किया बरामद- उत्कर्ष धारा 24 न्यूज़

अमेठी ( उत्कर्ष धारा 24)। पुलिस अधीक्षक अमेठी श्री दिनेश कुमार सिंह के निर्देशन, अपर पुलिस अधीक्षक श्री दयाराम सरोज  व क्षेत्राधिकारी मुसाफिरखाना श्री संतोष सिंह के पर्यवेक्षण में तथा प्रभारी निरीक्षक धीरेन्द्र कुमार सिंह के कुशल नेतृत्व में दिनांक 31.07.2020 को पंजीकृत मु0अ0सं0 236/20 धारा 363 भादवि से सम्बन्धित गुमशुदा मोहित यादव उम्र करीब 12 वर्ष पुत्र राजिन्दर यादव निवासी ग्राम जगतपुर थाना शिवरतनगंज अमेठी की तलाश में प्रभारी निरीक्षक श्री धीरेन्द्र कुमार सिंह, उ0नि0श्री उपेन्द्र प्रताप सिंह, उ0नि0राजेश कुमार गौड़, हे0का0 देवेन्द्र बहादुर सिंह के अथक प्रयास से गुमशुदा मोहित यादव उपरोक्त को आज दिनाँक 01.08.2020 को समय करीब 06.00 बजे प्रातः ग्राम गढी वासिल बैरहना मजरे सातनपुरवा से सकुशल बरामद कर उसके परिजनो को सुपुर्द किया गया । परिवारीजनो ने पुलिस को धन्यवाद दिया ।

घटना का संक्षिप्त विवरण -:

       दिनाँक 31.07.20 को वादी श्री राजिन्दर यादव पुत्र कन्धई यादव निवासी ग्राम जगतपुर थाना शिवरतनगंज जनपद अमेठी ने लिखित तहरीर दिया कि मेरा लड़का मोहित यादव उम्र 12 वर्ष जो दिनाँक 31.07.20 को समय करीब 11.00 बजे दिन मे गाँव में साइकिल चला रहा था । साईकिल चलाते हुए बिना बताये कहीं चला गया । जिसकी काफी तलाश किया गया किन्तु कोई पता नही चल सका । उक्त सूचना पर दिनांक 31.07.2020 को मु0अ0सं0 236/20 धारा 363 भादवि पंजीकृत कर तत्काल दो टीमे 1.प्रभारी निरीक्षक धीरेन्द्र कुमार सिंह मय फोर्स  2. उ0नि0श्री राजेश कुमार गौड़ मय फोर्स के गठित कर गुमशुदा की तलाश मे रवाना किया गया । आज दिनाँक 01.08.2020 को गुमशुदा मोहित यादव उपरोक्त को समय करीब 06.00 बजे प्रातः ग्राम गढी वासिल बैरहना मजरे सातनपुरवा से सकुशल बरामद किया गया । पूछने पर गुमशुदा द्वारा बताया गया कि दिनाँक 31.07.20 को सुबह लगभग 11.00 बजे मैं गदुआपुर के दिनेश मंगता के साथ अपने खेत से बछड़ा हाकने गया था, रास्ते में पुलिस दिखायी देने पर हम लोग बछड़ा छोड़कर भाग गये फिर दिनेश के साथ ग्राम खारा गये, और दिनेश ने मुझे घर जाने के लिये कहा, किन्तु डर वश मैं घर नही गया और दिनेश मंगता के साथ ग्राम गढी वासिल बैरहना में रेहान के घर पर जाकर सो गये । आज सुबह हम लोग घर जाने के लिये निकले थे कि पुलिस ने बरामद कर लिया । मेरा किसी ने अपहरण नहीं किया था ।