कंप्यूटर

कंप्यूटर

आज का युग कंप्यूटर का युग है आज जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में कंप्यूटर का समावेश है पैमाने पर गणना करने वाले इलेक्ट्रॉनिक संयंत्र को संगणक अथवा कंप्यूटर कहते हैं कंप्यूटर कहते हैं कंप्यूटर वह युक्ति है जिसके द्वारा स्वचालित रूप से विविध प्रकार के आंकड़ों को संसाधित एवं संचित किया जाता है कंप्यूटर वायरस एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक कोड है जिसका उपयोग कंप्यूटर में समाए सूचनाओं को समाप्त करने के लिए होता है इसे कंप्यूटर प्रोग्राम में किसी टेलीफोन लाइन से दुर्भाग्य प्रेषत किया जाता है इस कोड में गलत सूचनाएं मिल सकती है एक चित्र जानकारी नष्ट हो सकती है तथा यदि कोई कंप्यूटर किसी नेटवर्क से जुड़ा है तो इलेक्ट्रॉनिक रूप से जुड़े होने के कारण यह वायरस संपूर्ण नेटवर्क को प्रभावित कर सकता है यह महीनों सालों तक बिना पहचाने गए ही कंप्यूटर में पड़े रह सकते हैं और उसे क्षति पहुंचा सकते हैं इनकी रोकथाम के लिए इलेक्ट्रॉनिक सुरक्षा व्यवस्था विकसित की गई है कुछ मुख्य कंप्यूटर वायरस हैं डार्क एवेंजर किलो फिलिप्स सी ब्रेन चार्ल्स बैबेज को कंप्यूटर का पितामह कहा जाता है आधुनिक कंप्यूटर की खोज सर्वप्रथम 1946 ईस्वी में हुई भारत का प्रथम कंप्यूटरीकृत डाकघर नई दिल्ली का है कंप्यूटर तीन प्रकार के होते हैं डिजिटल एनालॉग हाइब्रिड कंप्यूटर बोर्ड में कुल 8 संयोजक होते हैं कंप्यूटर की 5 पीढ़ियां विकसित की गई हैं एनालॉग एवं डिजिटल के संयुक्त स्वरूप को हाइब्रिड कंप्यूटर कहते हैं भारतीय जनता पार्टी भारत की पहली ऐसी पार्टी है जिसने इंटरनेट पर अपना वेबसाइट बनाया है विश्व के प्रथम इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कंप्यूटर का नाम एनीयक है