नहरों में रोस्टर के अनुसार किसानों को आवश्यकतानुसार पानी टेल तक पहुंचाएं - अपर मुख्य सचिव

नहरों में रोस्टर के अनुसार किसानों को आवश्यकतानुसार पानी टेल तक पहुंचाएं - अपर मुख्य सचिव

अमेठी (उत्कर्ष धारा 24), अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा  एवं जनपद नोडल अधिकारी  मोनिका एस. गर्ग ने आज अपने जनपद भ्रमण के दौरान अपर पुलिस महानिदेशक  राजकुमार, जिलाधिकारी अरुण कुमार के साथ एचएएल कोरवा मुंशीगंज में विकास योजनाओं से सम्बन्धित तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियों से धान खरीद, कोविड-19 व उसके टीकाकरण, जनसमस्याओं विशेषकर किसानों की समस्याओं, सिचाई, नहरों में पानी की उपलब्धता, विधुत की उपलब्धता तथा पुलिस से सम्बन्धित शिकायतों आदि से सम्बन्धित समीक्षा बैठक किया एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

  • जनपद नोडल अधिकारी ने आज धान खरीद, कोविड-19 व उसके टीकाकरण, जनसमस्याओं विशेषकर किसानों की समस्याओं, सिचाई, नहरों में पानी की उपलब्धता, विधुत की उपलब्धता, तथा पुलिस से सम्बन्धित शिकायतों की किया समीक्षा।
  • किसानों की समस्याओं का प्राथमिकता पर करें निस्तारण संबंधित अधिकारी........अपर मुख्य सचिव।

नोडल अधिकारी ने सर्वप्रथम धान खरीद की समीक्षा किया, जिसमें अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि शासन द्वारा जनपद का लक्ष्य 110000 मीट्रिक टन  रखा गया है, जिसमें से अब तक 12624 किसानों से 70260 मीट्रिक टन की खरीद की जा चुकी है जो लगभग  कुल खरीद के 63 प्रतिशत खरीद हो चुकी है। उन्होंने बताया कि  जनपद में  किसानों से धान क्रय करने के लिए  57 केंद्र बनाए गए हैं, जिसमें विपणन शाखा के 23, पीसीएफ के 28, यूपी एग्रो के 2, मंडी समिति के 2, एफसीआई के 2 केंद्र शामिल हैं। उन्होंने बताया कि  कुल खरीद  से लगभग 75%  किसानों को भुगतान  की कार्यवाही की जा चुकी है। बैठक में नोडल अधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि धान क्रय केंद्रों पर किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए,  जिस क्रम से टोकन दिया गया हो उसी क्रम से किसानों का धान खरीदा जाए, किसानों को केंद्रों पर इंतजार न करना पड़े तथा उनका समय से भुगतान सुनिश्चित किया जाए। इसके बाद नोडल अधिकारी ने कोविड-19 व उसके टीकाकरण की समीक्षा किया। जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे ने बताया कि वैक्सीनेशन को लेकर जनपद स्तर पर सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, डॉक्टरों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है, वैक्सीन रखने के लिए जनपद में 15 कोल्ड चैन उपलब्ध हैं, प्रथम चरण में हेल्थ वर्कर को टीकाकरण किया जाएगा। वर्तमान में कोविड-19 को लेकर उन्होंने बताया कि अब तक 228203 लोगों की सैंपलिंग कराई जा चुकी है, जिसमें 3525 पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें से 3376 डिस्चार्ज हो चुके हैं वर्तमान में 98 एक्टिव केस हैं तथा अब तक कोविड-19 से 36 लोगों की मृत्यु हुई है, इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों तथा बाहर से आने वाले लोगों की नियमित सैंपलिंग की जा रही है। नोडल अधिकारी ने पशुपालन विभाग द्वारा संचालित निराश्रित गोवंश को संरक्षित करने, पंजीकृत गौशालाओं, के बारे में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से विस्तार से निराश्रित गोवंश के टैकिंग की प्रगति आवारा पशुओं के संरक्षित करने टीकाकरण की प्रगति आदि पर जानकारी ली। उन्होेंने विद्युत, सिंचाई, पुलिस के अधिकारियों को निर्देश दिये कि किसानों की समस्याओं के प्रति सर्तक रहे। किसानों को नहरोे में टेल तक पानी पंहुचाने का भरसक प्रयास करें, नहरों में रोस्टर के अनुसार किसानों को आवश्यकतानुसार पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करें। विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि किसानों को इस समय खेतों की सिंचाई हेतु विद्युत की आवश्यकता है। ट्रान्सफार्मर, ओवरलोडिंग, हाई-लो बोलटेज की स्थित पर नजर बनाये रखे। पुलिस विभाग को निर्देश दिये गये कि क्वालिटी एवं डिस्पोजल की फीडबैक को ठीक रखा जाये। जिलाधिकारी श्री  अरुण कुमार ने नोडल अधिकारी को बताया कि किसानों को किसी प्रकार की स्थानीय स्तर पर समस्या प्रकाश मे आती है तो उसे तत्काल हल कराने का प्रयास किया जाता है। किसी किसान को खाद, पानी आदि कि समस्या फिलहाल नही है। फिर भी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को किसानों के हित में सजग रहने के कडे निर्देश दिये गये है। बैठक में पुलिस अधीक्षक  दिनेश सिंह, मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर, अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम सरोज, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे, जिला कृषि अधिकारी अखिलेश पांडे, डिप्टी आरएमओ भीमा चंद गौतम सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।